जानिए क्यों ख़ास है ’26 जनवरी’ का दिन?

Republic_Day_HOG
Republic Day

26 जनवरी 1950, भारत के लिए एक बेहद महत्वपूर्ण दिन है। इस दिन भारत के संविधान को उसका अस्तित्व मिला था। बता दें, भारत का संविधान सबसे बड़ा लिखित संविधान हैजिसे अपने अस्तित्व में आने में पूरे 2 साल 11 महिने और 18 दिन लगे थे।जिसके वास्तुकार डॉ. भीमराव अम्बेडकर थे।

भारत में विभिन्न जाति और धर्म के लोग प्यार से एक साथ रहते हैं।आइए इस दिन को याद करते हुए देश को गौरवशाली गणतंत्र राष्ट्र बनाने वाले उन देशभक्तों को याद किया जाएं जिन्होंने इस खास दिन के लिए अपने जीवन का बलिदान दे दिया था। भारतीय संविधान को सम्मान देने के लिये 26 जनवरी को पूरे सम्मान के साथ हर वर्ष भारत में गणतंत्र दिवस मनाया जाता है क्योंकि आज ही के दिन 1950 में ये लागू हुआ था।

भारतीय संविधान ने 1935 के अधिनियम को बदल कर खुद को भारत के संचालक दस्तावेज़ के रुप में स्थापित किया था। इस दिन को भारतीय सरकार द्वारा राष्ट्रीय अवकाश के रुप में घोषित किया गया है।

भारतीय संवैधानिक सभा द्वारा नये भारतीय संविधान की रुप- रेखा तैयार हुई और स्वीकृति मिली तथा भारत के गणतांत्रिक देश बनने की खुशी में इसे हर वर्ष 26 जनवरी को मनाने की घोषणा

हुई।

26 जनवरी 1950 का इतिहास:

26th_Jan_HOG
26th January

वर्ष 1947 में 15 अगस्त को अंग्रेजी शासन से भारत को आजादी मिली थी। उस समय देश का कोई स्थायी संविधान नहीं था।पहली बार,

वर्ष 1947 में 4 नवंबर को राष्ट्रीय सभा को ड्राफ्टिंग कमेटी के द्वारा भारतीय संविधान का पहला ड्राफ्ट प्रस्तुत किया गया था।वर्ष 1950 में 24 जनवरी कोहिन्दी और अंग्रेजी में दो संस्करणों में राष्ट्रीय सभा द्वारा भारतीय संविधान का पहला ड्राफ्ट हस्ताक्षरित हुआ था। तब 26 जनवरी 1950 अर्थात् गणतंत्र दिवस को भारतीय संविधान अस्तित्व में आया।तब से, भारत में गणतंत्र दिवस के रुप में 26 जनवरी मनाने की शुरुआत हुई थी।

इस दिन भारत को पूर्णं स्वराज देश के रुप में घोषित किया गया था अत: पूर्णं स्वराज के वर्षगाँठ के रुप में हर वर्ष इसे मनाये जाने की

शुरुआत हुई। भारतीय संविधान ने भारत के नागरिकों को अपनी सरकार चुनने का अधिकार दिया। सरकारी हाऊस के दरबार हॉल में भारत के पहले राष्ट्रपति के रुप में डॉक्टर राजेन्द्र प्रसाद द्वारा शपथ लिया

गया था। गणतंत्र दिवस मनाने के पीछे भारत के पास एक बड़ा इतिहास है।

26 जनवरी का ही दिन क्यों चुना गया था:

26th_jan_HOG
26th January

26 जनवरी को इसलिए चुना गया था क्योंकि 1930 में इसी दिन भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने भारत को पूर्ण स्वराज घोषित किया था

26 जनवरी को गणतंत्र दिवस समारोह पर भारत के राष्ट्रपति द्वारा भारतीय राष्ट्र ध्वज को फहराया जाता हैं इस अवसर पर हर साल एक भव्य परेड इंडिया गेटसे राष्ट्रपति भवन (राष्ट्रपति के निवास)

तक राजपथ पर राजधानी, नई दिल्ली में आयोजित किया जाता है।

इस भव्य परेड में भारतीय सेना के विभिन्न रेजिमेंट, वायुसेना, नौसेना आदि सभी भाग लेते हैं।

App: https://houseofgod.onelink.me/xj4X/HouseOfGodSocial

Web: https://goo.gl/b58FFt

Facebook: http://bit.ly/2wF5wRq

Instagram: http://bit.ly/2wN8X7W

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *