माँ कात्यायनी स्तुति:

Liked
See More

कात्यायनी स्तुतिः सुखानन्दकरीं शान्तां सर्वदेवैर्नमसकृताम्। सर्वभूतात्मिकां देवीं शाम्भवीं प्रणमाम्यहम्। । माता कात्यायनी का स्वरूप अत्यंत दिव्य ओर स्वर्ण स्वरूपा है| यह सिंह पर विराजमान रहती है| इनका एक हाथ अभय मुद्रा मे है तो दूसरा हाथ वर मुद्रा मे है अन्य हाथो मे तलवारतथा कमल का फूल है | आराधना महत्व माता कात्यायनी की भक्ति साधक को बड़ी सरलता से अर्थ, धर्म, काम, मोक्ष चारो फल प्रदान करती है | साधक शोक, संताप, डर से मुक्त होता है तथा सर्वथा के लिए उसके दुखो का अंत होता है।

house of god
house of god
SAVE

Preferences

THEME

LANGUAGE